शेयर बाज़ार एक वित्तीय बाज़ार है जहाँ प्रतिभागी कंपनियों के स्थानीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सहमति अनुसार शेयर और सेक्यूरिटीज़ की खरीददारी और बेचदारी की जाती है

यह वित्तीय पूंजी को निवेश और वित्तीय लेन-देन के लिए उपलब्ध कराता है

Fill in some text

शेयर बाज़ार का मुख्य उद्देश्य निवेशकों को उनकी पूंजी को विवेकपूर्ण तरीके से निवेश करने का मौका देना होता है, जिससे वे शेयरों के माध्यम से आय कमा सकें

शेयर बाज़ार के प्रमुख खिलाड़ी शेयर ब्रोकर्स, निवेशक, और कंपनियाँ होती हैं, जो शेयरों की खरीददारी और बेचदारी के बाज़ार में व्यापार करते हैं।

यह वित्तीय प्रतिभागिता की दृष्टि से महत्वपूर्ण होता है और एक राष्ट्रीय और ग्लोबल अर्थव्यवस्था के लिए महत्वपूर्ण सूचक हो सकता है।

शेयर बाज़ार में शेयरों की मूल्य निर्धारण और वृद्धि का संकेत दिया जाता है, जिससे निवेशकों को उनके निवेश के प्रति सहायता मिलती है।

इसमें दो प्रमुख शेयर बाज़ार के प्रकार होते हैं - प्राइमरी बाज़ार और सेकंडरी बाज़ार, जिनमें नए और पूराने शेयरों की खरीददारी और बेचदारी की जाती है।

शेयर बाज़ार का संचालन संचालन निगम या वित्त मंत्रालय द्वारा नियंत्रित होता है और यह निवेशकों को निवेश के लिए नियमों और विधियों का पालन करना होता है।

शेयर बाज़ार की स्थिति और मूल्यों में परिवर्तन वित्तीय समर्थन के लिए महत्वपूर्ण होते हैं और उन्हें विश्लेषित किया जाता है।