शेयर बाज़ार एक वित्तीय बाज़ार होता है जहाँ कंपनियों के शेयर खरीदे और बेचे जाते हैं। इस बाज़ार के माध्यम से विनिवेशक विभिन्न कंपनियों के मालिक बन सकते हैं

शेयर बाज़ार में निवेश करने से पहले, व्यक्ति को बाज़ार के नियमों और कंपनियों के फंडामेंटल्स का सही समझना चाहिए।

इसमें शेयर मूल्यों की निर्धारण के लिए प्रमुख उपायों में से एक है तकनीकी और मौद्रिक विश्लेषण का उपयोग करना।

शेयर बाज़ार की गतिविधियों को प्रभावित कर सकने वाले घटकों में समाचार, घटिका, और ग्लोबल मुद्रा बाज़ार शामिल होते हैं।

शेयर बाज़ार में निवेश करने के लिए एक डिमेट खाता खोलना जरूरी होता है और निवेशकों को सीखने और समझने के लिए समय निकालना चाहिए।

निवेशकों को हाथ में धरकर शेयर बाज़ार में धीरे-धीरे निवेश करने का सुझाव दिया जाता है ताकि वे अधिक नुकसान से बच सकें।

शेयर बाज़ार का मुद्रा बाज़ार से मिलान जुलान होता है, लेकिन यह एक अलग बाज़ार होता है जो कंपनियों के सहमति से चलता है।

निवेशकों को शेयर बाज़ार के वोलेटिलिटी को समझना चाहिए और निवेश के समय ध्यानपूर्वक और विचारशीलता से काम करना चाहिए।

शेयर बाज़ार में निवेश करने के फायदे और खतरे होते हैं

यह एक विचारशील निवेश का फील्ड होता है और निवेशकों को सवधानी बरतनी चाहिए