वित्तीय संस्थाओं की आवश्यकता: कंपनियों को पूंजी जुटाने की आवश्यकता थी, और शेयर मार्केट ने उन्हें इसके लिए एक प्लेटफार्म प्रदान किया

निवेशकों का विकल्प: लोगों को अपनी पूंजी को निवेश में लगाने के लिए विभिन्न विकल्प चाहिए थे, और शेयर मार्केट ने उन्हें यह संविदानिक विकल्प प्रदान किया

कंपनियों के स्वामित्व का साझा करना: शेयर मार्केट कंपनियों को स्वामित्व को साझा करने का मौका प्रदान करता है, जिससे उन्हें नए पूंजी का स्रोत प्राप्त करने में मदद मिलती है

सामान्य लोगों के लिए निवेश के मौके: शेयर मार्केट के माध्यम से सामान्य लोग वित्तीय विकल्पों में निवेश कर सकते हैं, जिससे उन्हें लाभ प्राप्त करने का मौका मिलता है

अर्थव्यवस्था का स्थिरता: शेयर मार्केट अर्थव्यवस्था को स्थिरता प्रदान करता है, क्योंकि यह वित्तीय संस्थाओं और कंपनियों के बीच संवाद को सुविधाजनक बनाता है

निवेशकों की सुरक्षा: शेयर मार्केट निवेशकों को सुरक्षित और नियमित तरीके से निवेश करने की सुविधा प्रदान करता है

उद्योग के विकास का सहायक: शेयर मार्केट के माध्यम से कंपनियां अपने विकास के लिए पूंजी जुटा सकती हैं और नए प्रोजेक्ट्स को शुरू कर सकती हैं

निवेश पोर्टफोलियो का विवरण: निवेशक अपने पोर्टफोलियो को विभिन्न शेयर्स में विभाजित करके अपनी निवेश स्ट्रैटेजी को बेहतर बना सकते हैं